en English
en English

Corona Pandemic People Are In Fear In Gujarat Valsad So They Decided To Put Lockdown In Their Area – गुजरात: वलसाड के लोगों ने खुद लगाया 10 दिन का लॉकडाउन, सरकार नहीं जागी तो दिखाई सूझबूझ


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वलसाड
Published by: Tanuja Yadav
Updated Tue, 20 Apr 2021 12:24 PM IST

सार

कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए गुजरात के वलसाड में लोगों ने दस दिन तक लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। जिले के दुकानदारों और व्यापारियों के संगठनों ने जिलाधिकारी और भाजपा विधायक के साथ बैठक में इसका फैसला लिया।

ख़बर सुनें

चीन से फैले कोविड-19 वायरस ने पूरी दुनिया में हाहाकर मचा दिया है। भारत में हालात इस कदर बेकाबू हैं कि यहां रोजाना लाखों संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। यही नहीं भारत में कोरोना से होने वाली मौतें भी सबसे ज्यादा हो रही हैं। सक्रिय मामलों की बात करें तो भारत दूसरे नंबर पर आता है। 

कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के लिए एक तरफ राज्य सरकारें साप्ताहिक लॉकडाउन या फिर सप्ताहभर के लिए लॉकडाउन लगा रही है। लेकिन उत्तर प्रदेश जैसे राज्य में हाईकोर्ट के आदेश के बाद लॉकडाउन लगाने से इनकार किया जा रहा है। इधर गुजरात में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए वलसाड शहर के लोगों ने दस दिन तक खुद से लॉकडाउन लगाने का एलान कर दिया है।

व्यापारियों के संगठन ने भाजपा विधायक और जिलाधिकारी के साथ मिलकर लिया फैसला
वलसाड के दुकानदारों और व्यापारियों के संगठन ने जिलाधिकारी आर आर रावल और भारतीय जनता पार्टी के विधायक भरत पटेल के साथ बैठक में इसका फैसला किया। सोमवार को वलसाड जिले में 71 नए मरीज सामने आए और छह मरीजों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। 

वलसाड में कोरोना संक्रमित कुल मामलों की संख्या 2,101 हो गई है और सरकारी और निजी अस्पतालों में 416 मरीजों का इलाज चल रहा है। बता दें कि वलसाड में रविवार से दस दिन का लॉकडाउन लागू कर दिया गया और लॉकडाउन के एलान से पहले ही लोगों ने आवश्यक सामान बेचने वाली दुकानों के बाहर लंबी लाइनें लगा दीं। 

राज्य में आने-जाने वाले यात्रियों के लिए निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट लाना जरूरी
गुजरात में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने एक अप्रैल से किसी भी राज्य से आने-जाने वाले यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट साथ लाना अनिवार्य कर दिया है। बाहरी राज्यों से आने वाले हर यात्री की गहन जांच की जा रही है। 

वहीं जिन लोगों के पास आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट नहीं है, वो 800 रुपये का शुल्क देकर हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन और बस स्टॉप पर अपनी जांच करवा सकते हैं। राज्य में कोरोना के फैलते संक्रमण को देखते हुए पार्क और स्कूल को पहले से ही बंद किया हुआ है।

विस्तार

चीन से फैले कोविड-19 वायरस ने पूरी दुनिया में हाहाकर मचा दिया है। भारत में हालात इस कदर बेकाबू हैं कि यहां रोजाना लाखों संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। यही नहीं भारत में कोरोना से होने वाली मौतें भी सबसे ज्यादा हो रही हैं। सक्रिय मामलों की बात करें तो भारत दूसरे नंबर पर आता है। 

कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के लिए एक तरफ राज्य सरकारें साप्ताहिक लॉकडाउन या फिर सप्ताहभर के लिए लॉकडाउन लगा रही है। लेकिन उत्तर प्रदेश जैसे राज्य में हाईकोर्ट के आदेश के बाद लॉकडाउन लगाने से इनकार किया जा रहा है। इधर गुजरात में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए वलसाड शहर के लोगों ने दस दिन तक खुद से लॉकडाउन लगाने का एलान कर दिया है।

व्यापारियों के संगठन ने भाजपा विधायक और जिलाधिकारी के साथ मिलकर लिया फैसला

वलसाड के दुकानदारों और व्यापारियों के संगठन ने जिलाधिकारी आर आर रावल और भारतीय जनता पार्टी के विधायक भरत पटेल के साथ बैठक में इसका फैसला किया। सोमवार को वलसाड जिले में 71 नए मरीज सामने आए और छह मरीजों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। 

वलसाड में कोरोना संक्रमित कुल मामलों की संख्या 2,101 हो गई है और सरकारी और निजी अस्पतालों में 416 मरीजों का इलाज चल रहा है। बता दें कि वलसाड में रविवार से दस दिन का लॉकडाउन लागू कर दिया गया और लॉकडाउन के एलान से पहले ही लोगों ने आवश्यक सामान बेचने वाली दुकानों के बाहर लंबी लाइनें लगा दीं। 

राज्य में आने-जाने वाले यात्रियों के लिए निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट लाना जरूरी

गुजरात में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने एक अप्रैल से किसी भी राज्य से आने-जाने वाले यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट साथ लाना अनिवार्य कर दिया है। बाहरी राज्यों से आने वाले हर यात्री की गहन जांच की जा रही है। 

वहीं जिन लोगों के पास आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट नहीं है, वो 800 रुपये का शुल्क देकर हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन और बस स्टॉप पर अपनी जांच करवा सकते हैं। राज्य में कोरोना के फैलते संक्रमण को देखते हुए पार्क और स्कूल को पहले से ही बंद किया हुआ है।



Source link

हमें खबर को बेहतर बनाने में सहायता करें

खबर में कोई नई नॉलेज मिली?
क्या आप इसको शेयर करना चाहेंगे?
जानकारी, भाषा, हेडिंग अच्छी है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,678,786
Recovered
0
Deaths
447,194
Last updated: 9 minutes ago

Vistors

6772
Total Visit : 6772