en English
en English

Cyclone Tauktae: Now Rains Can Wreak Havoc In Rajasthan, Delhi, Up, Haryana, Himachal Are Likely To Receive Widespread Rains – ताउते का असर: दिल्ली और राजस्थान में बारिश, इन राज्यों में भी बरसेंगे बादल


चक्रवाती तूफान ताउते अब गुजरात से राजस्थान कूच कर गया है। मंगलवार देर रात तक यह राजस्थान में छा गया। हालांकि मंगलवार को इसकी तीव्रता कम हो गई थी। इसके असर से राजस्थान में दबाव क्षेत्र बना है जिसके बाद कई जिलों में बारिश हो रही है। मौसम विभाग के अनुसार ताउते के कारण 19 व 20 मई को उत्तर भारत में व्यापक रूप से वर्षा की संभावना है।

हिमाचल, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिम यूपी, उत्तराखंड में अलग-अलग स्थानों पर कहीं छुटपुट तो कहीं अत्यधिक भारी वर्षा और पंजाब, पूर्वी यूपी और उत्तरी राजस्थान में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा का अनुमान है। उत्तर प्रदेश के अतरौली, जट्टारी, खुर्जा, आगरा, जजुआ, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मथुरा, राया, बरसाना, नंदगाव में बारिश की संभावना है।

वहीं, राजस्थान में दबाव क्षेत्र बनने के कारण मंगलवार देर रात से बुधवार सुबह के बीच बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, नदबाई, कोटपुतली, अलवर, नागौर,भरतपुर, प्रतापगढ़, राजसमंद, उदयपुर व आसपास के क्षेत्रों में भारी बारिश का अनुमान जताया गया। जयपुर, अजमेर, कोटा और भरतपुर संभागों में भी तेज बारिश का अनुमान है। चक्रवात के असर के कारण सोमवार रात भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़ में तेज बारिश हुई। 

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने मंगलवार को बताया कि ताउते चक्रवात के और कमजोर पड़ने के साथ अगले दो दिन में दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत के विभिन्न हिस्सों में मध्यम स्तर की बारिश होने का अनुमान है। विभाग के स्थानीय केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि ताउते के उत्तर भारत की ओर बढ़ने पर दक्षिणी राजस्थान में बारिश हुई है।

श्रीवास्तव ने कहा कि मंगलवार को यह राजस्थान और हरियाणा के हिस्से में पहुंचेगा। इसके कारण पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान और दिल्ली-एनसीआर में मध्यम स्तर की बारिश होगी। दिल्ली के कुछ इलाकों में भारी बारिश होने का अनुमान है।

विभाग ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लिये बुधवार को ‘ऑरेंज’ चेतावनी जारी की है। साथ ही उसने बारिश तथा 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान जताया है। उत्तर भारत में पश्चिमी विक्षोभ का भी प्रभाव है और दोनों मौसमी गतिविधियों के चलते बारिश होने का अनुमान है।

ताउते चक्रवात के सोमवार रात गुजरात के तट पर दस्तक देने के बाद राज्य में भारी बारिश हुई है। इससे पहले यह चक्रवात पूरे पश्चिमी तट को प्रभावित कर चुका था।

गृहमंत्री शाह ने की सीएम गहलोत से चर्चा
तूफान के राजस्थान की ओर बढ़ने की खबरों के बीच केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सीएम अशोक गहलोत से फोन पर बात की। उन्होंने केंद्र से हर तरह की मदद का भरोसा दिया है।  बता दें, अरब सागर में उठा तूकाते सोमवार रात गुजरात के सौराष्ट्र तट से टकराया था। इसने दीव व उना के बीच बेहत तीव्र चक्रवात के रूप में दस्तक दी। इसके बाद यह तीव्र चक्रवात के रूप में गुजरात तट के पार हुआ। इसके बाद यह धीरे-धीरे कमजोर पड़ता गया। बता दें, इसके असर से सोमवार को मुंबई में भारी बारिश हुई थी। वर्ष 2021 का यह सबसे तीव्र चक्रवात था, जिसने मुंंबई को तरबतर कर दिया। 



Source link

हमें खबर को बेहतर बनाने में सहायता करें

खबर में कोई नई नॉलेज मिली?
क्या आप इसको शेयर करना चाहेंगे?
जानकारी, भाषा, हेडिंग अच्छी है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,678,786
Recovered
0
Deaths
447,194
Last updated: 9 minutes ago

Vistors

6786
Total Visit : 6786