en English
en English

Maharashtra: Poll Strategist Prashant Kishor Meeting Ncp Chief Sharad Pawar, 2024 Loksabha Elections Pm Modi Uddhav Thackeray – सियासत: एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मिले प्रशांत किशोर, तीन घंटे की मुलाकात में 2024 का खाका तैयार!


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुंबई
Published by: दीप्ति मिश्रा
Updated Sat, 12 Jun 2021 12:56 PM IST

सार

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने शुक्रवार को एनसीपी के प्रमुख शरद पवार से उनके मुंबई स्थित आवास पर मुलाकात की। इससे उन अटकलों को बल मिला कि वर्ष 2024 में होने वाले अगले आम चुनावों के लिए सत्तारूढ़ भाजपा के खिलाफ एक राष्ट्रीय गठबंधन बनाने का प्रयास किए जा रहे हैं। 

शरद पवार और प्रशांत किशोर की मुलाकात
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

महाराष्ट्र में सियासी हलचल तेज हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की मुलाकात के बाद अब चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने शुक्रवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रमुख शरद पवार से उनके मुंबई स्थित आवास पर मुलाकात की। इससे उन अटकलों को बल मिला कि 2024 में होने वाले अगले आम चुनावों के लिए सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ एक राष्ट्रीय गठबंधन बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। यह मुलाकात करीब तीन घंटे तक चली। 

प्रशांत किशोर शरद पवार की बेटी और बारामती से सांसद सुप्रिया सुले के साथ दक्षिण मुंबई में स्थित पवार के आवास ‘सिल्वर ओक’ पर सुबह करीब 11 बजे पहुंचे। वहां से दोपहर करीब 2 बजे निकले। इतना ही नहीं एनसीपी राज्य प्रमुख जयंत पाटिल भी कुछ समय के लिए ‘सिल्वर ओक’ पहुंचे और जल्दी चले गए। एनसीपी के अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि बैठक में जिन विषयों पर चर्चा हुई, उनमें भाजपा के विकल्प की संभावना भी शामिल थी।

प्रशांत किशोर और शरद पवार की मुलाकात को लेकर एनसीपी नेता नवाब मलिक का कहना है ये मुलाकात तीन घंटे तक चली। इस बैठक में प्रशांत किशोर को एनसीपी का रणनीतिकार नियुक्त करने को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई। पवार विपक्षी दलों को एकजुट करना चाहते हैं इस उद्देश्य के लिए आने वाले दिनों में प्रयास किए जाएंगे।

सभी दलों को एकजुट करने के प्रयास जारी
एनीसीपी नेता और उद्धव सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि अगले आम चुनाव से पहले भाजपा के खिलाफ रुख रखने वाली पार्टियों के महागठबंधन की जरूरत है। शरद पवार ने भी भाजपा का मुकाबला करने के लिए सभी दलों के राष्ट्रीय गठबंधन की बात कही है। उन्होंने कहा है कि वह ऐसे बलों को साथ लाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को आंकड़ों और सूचनाओं की पूरी जानकारी है। तीन घंटे चली चर्चा में यह मुद्दा भी पक्का आया होगा।
 

बता दें कि शरद पवार लगातार दूसरी बार केंद्र सरकार में बैठी भाजपा से मुकाबला करने के लिए विपक्षी दलों के लगातार एकजुट होने की वकालात करते रहे हैं। वर्ष 2014 में भारती जनता पार्टी ने कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन को हराया था और नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने थे, तो उस वक्त प्रशांत किशोर भगवा पार्टी के चुनावी रणनीतिकार थे। हालांकि, बाद में वह पार्टी से अलग हो गए और विधानसभा चुनावों के लिए कुछ विपक्षी दलों के साथ काम किया, जिनमें कहीं उऩ्हें हार मिली तो कहीं जीत।  हाल ही में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस को सत्ता में बनाए रखने और भाजपा को हराने में मदद करने के बाद वह फिर से चर्चा में आ गए हैं। वह डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन के चुनावी रणनीतिकार भी थे।

शरद पवार और प्रशांत किशोर के बीच यह बैठक ऐसे वक्त हुई है, जब महाराष्ट्र की राजनीति में कुछ अप्रत्याशित घटनाक्रम देखने को मिले। पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए उन्हें देश का शीर्ष नेता बताया और फिर उद्धव ठाकरे ने दिल्ली में पीएम मोदी के साथ अकेले में मुलाकात की, जिसके बाद कयासों का दौर शुरू हो गया। 

विस्तार

महाराष्ट्र में सियासी हलचल तेज हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की मुलाकात के बाद अब चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने शुक्रवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रमुख शरद पवार से उनके मुंबई स्थित आवास पर मुलाकात की। इससे उन अटकलों को बल मिला कि 2024 में होने वाले अगले आम चुनावों के लिए सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ एक राष्ट्रीय गठबंधन बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। यह मुलाकात करीब तीन घंटे तक चली। 

प्रशांत किशोर शरद पवार की बेटी और बारामती से सांसद सुप्रिया सुले के साथ दक्षिण मुंबई में स्थित पवार के आवास ‘सिल्वर ओक’ पर सुबह करीब 11 बजे पहुंचे। वहां से दोपहर करीब 2 बजे निकले। इतना ही नहीं एनसीपी राज्य प्रमुख जयंत पाटिल भी कुछ समय के लिए ‘सिल्वर ओक’ पहुंचे और जल्दी चले गए। एनसीपी के अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि बैठक में जिन विषयों पर चर्चा हुई, उनमें भाजपा के विकल्प की संभावना भी शामिल थी।

प्रशांत किशोर और शरद पवार की मुलाकात को लेकर एनसीपी नेता नवाब मलिक का कहना है ये मुलाकात तीन घंटे तक चली। इस बैठक में प्रशांत किशोर को एनसीपी का रणनीतिकार नियुक्त करने को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई। पवार विपक्षी दलों को एकजुट करना चाहते हैं इस उद्देश्य के लिए आने वाले दिनों में प्रयास किए जाएंगे।

सभी दलों को एकजुट करने के प्रयास जारी

एनीसीपी नेता और उद्धव सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि अगले आम चुनाव से पहले भाजपा के खिलाफ रुख रखने वाली पार्टियों के महागठबंधन की जरूरत है। शरद पवार ने भी भाजपा का मुकाबला करने के लिए सभी दलों के राष्ट्रीय गठबंधन की बात कही है। उन्होंने कहा है कि वह ऐसे बलों को साथ लाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को आंकड़ों और सूचनाओं की पूरी जानकारी है। तीन घंटे चली चर्चा में यह मुद्दा भी पक्का आया होगा।

 

बता दें कि शरद पवार लगातार दूसरी बार केंद्र सरकार में बैठी भाजपा से मुकाबला करने के लिए विपक्षी दलों के लगातार एकजुट होने की वकालात करते रहे हैं। वर्ष 2014 में भारती जनता पार्टी ने कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन को हराया था और नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने थे, तो उस वक्त प्रशांत किशोर भगवा पार्टी के चुनावी रणनीतिकार थे। हालांकि, बाद में वह पार्टी से अलग हो गए और विधानसभा चुनावों के लिए कुछ विपक्षी दलों के साथ काम किया, जिनमें कहीं उऩ्हें हार मिली तो कहीं जीत।  हाल ही में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस को सत्ता में बनाए रखने और भाजपा को हराने में मदद करने के बाद वह फिर से चर्चा में आ गए हैं। वह डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन के चुनावी रणनीतिकार भी थे।

शरद पवार और प्रशांत किशोर के बीच यह बैठक ऐसे वक्त हुई है, जब महाराष्ट्र की राजनीति में कुछ अप्रत्याशित घटनाक्रम देखने को मिले। पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए उन्हें देश का शीर्ष नेता बताया और फिर उद्धव ठाकरे ने दिल्ली में पीएम मोदी के साथ अकेले में मुलाकात की, जिसके बाद कयासों का दौर शुरू हो गया। 





Source link

हमें खबर को बेहतर बनाने में सहायता करें

खबर में कोई नई नॉलेज मिली?
क्या आप इसको शेयर करना चाहेंगे?
जानकारी, भाषा, हेडिंग अच्छी है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,678,786
Recovered
0
Deaths
447,194
Last updated: 5 minutes ago

Vistors

6782
Total Visit : 6782