en English
en English

Class 12th Evaluation Criteria: Cbse Will Submit 12th Assessment Criteria In Supreme Court Today 17 June – 12वीं की मूल्यांकन नीति: सीबीएसई का 13 सदस्यीय पैनल सुप्रीम कोर्ट में सौंपेगा रिपोर्ट, आज 11 बजे होगी सुनवाई


एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला
Published by: वर्तिका तोलानी
Updated Thu, 17 Jun 2021 09:12 AM IST

सार

आज 11 बजे सुप्रीम कोर्ट में कक्षा 12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द करने वाली याचिका पर होगी सुनवाई।

ख़बर सुनें

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) 17 जून को भारत के सर्वोच्च न्यायालय के सामने कक्षा 12वीं के छात्रों का परिणाम तैयार करने के लिए तय किया गया मूल्यांकन मानदंड रखेगा। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट, कक्षा 12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द करने वाली याचिका पर सुनवाई कर रहा था। लेकिन सुनवाई से दो दिन पहले ही बोर्ड द्वारा परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया गया। जिसके बाद 3 जून को हुई सुनवाई में कोर्ट ने सीबीएसई और काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) को दो सप्ताह के भीतर अपनी मूल्यांकन योजना प्रस्तुत करने का आदेश दिया था।

स्थगित नहीं होगी सुनवाई, पीठ ने किया था स्पष्ट
जस्टिस एएम खानविलकर और दिनेश माहेश्वरी की पीठ ने 3 जून की सुनवाई के दौरान यह भी कहा था कि कई छात्र भारत और विदेशों के कॉलेजों में प्रवेश की प्रतीक्षा कर रहे हैं, ऐसे में दो सप्ताह की समय सीमा में कोई विस्तार नहीं किया जाएगा। 

 

सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना महामारी के बीच बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने के ऐतिहासिक फैसले का स्वागत किया। लेकिन परिणाम जारी करने के लिए बोर्ड द्वारा तैयार की जाने वाली मूल्यांकन नीति के बारे में पूछताछ की। पीठ ने कहा, “हमें यह जानकर खुशी हो रही है कि सरकार ने कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला किया है। लेकिन हम चाहते हैं कि अंकों के आकलन के लिए निर्धारित वस्तुनिष्ठ मानदंड हमारे सामने रखे जाएं।”

विस्तार

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) 17 जून को भारत के सर्वोच्च न्यायालय के सामने कक्षा 12वीं के छात्रों का परिणाम तैयार करने के लिए तय किया गया मूल्यांकन मानदंड रखेगा। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट, कक्षा 12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द करने वाली याचिका पर सुनवाई कर रहा था। लेकिन सुनवाई से दो दिन पहले ही बोर्ड द्वारा परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया गया। जिसके बाद 3 जून को हुई सुनवाई में कोर्ट ने सीबीएसई और काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) को दो सप्ताह के भीतर अपनी मूल्यांकन योजना प्रस्तुत करने का आदेश दिया था।

स्थगित नहीं होगी सुनवाई, पीठ ने किया था स्पष्ट

जस्टिस एएम खानविलकर और दिनेश माहेश्वरी की पीठ ने 3 जून की सुनवाई के दौरान यह भी कहा था कि कई छात्र भारत और विदेशों के कॉलेजों में प्रवेश की प्रतीक्षा कर रहे हैं, ऐसे में दो सप्ताह की समय सीमा में कोई विस्तार नहीं किया जाएगा। 

 


आगे पढ़ें

क्या हुआ था पिछली सुनवाई में



Source link

हमें खबर को बेहतर बनाने में सहायता करें

खबर में कोई नई नॉलेज मिली?
क्या आप इसको शेयर करना चाहेंगे?
जानकारी, भाषा, हेडिंग अच्छी है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,594,803
Recovered
0
Deaths
446,368
Last updated: 6 minutes ago

Vistors

6689
Total Visit : 6689