en English
en English

Escort Vehicle In Meghalaya Governor Satya Pal Malik Fleet Attacked In Shillong Malawi While Returning Back From Guwahati Airport As Violence In The State Continues After Death Of Militant Leader – मेघालय: थम नहीं रहा हिंसा का दौर, राज्यपाल सत्यपाल मलिक के काफिले पर हमला


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिलॉन्ग
Published by: कीर्तिवर्धन मिश्रा
Updated Wed, 18 Aug 2021 12:17 AM IST

सार

मेघालय में पूर्व उग्रवादी चेरिस्टरफील्ड थांगखियू की पुलिस मुठभेड़ में हुई मौत के बाद फैली है अशांति। सीएम कोनराज संगमा ने 18 अगस्त की सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू का ऐलान किया है। 

मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के काफिले पर उपद्रवियों ने किया हमला।

मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के काफिले पर उपद्रवियों ने किया हमला।
– फोटो : PTI (फाइल)

ख़बर सुनें

विस्तार

मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के काफिले पर मंगलवार को कुछ शरारती तत्वों ने हमला बोल दिया। बताया गया है कि मलिक गुवाहाटी एयरपोर्ट से लौट रहे थे। इस दौरान उनके काफिले में चल रही कारों पर कुछ लोगों ने पत्थर बरसा दिए। फिलहाल किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। 

बता दें कि मेघालय में 18 अगस्त की सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लागू है। फिलहाल कम से कम चार जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद है। सरकार ने यह फैसला स्वतंत्रता दिवस के दिन प्रतिबंधित हाइनीवट्रेप नेशनल लिबरेशन काउंसिल के स्वयंभू महासचिव चेरिस्टरफील्ड थांगखियू की शव यात्रा के दौरान उसके समर्थकों द्वारा की गई तोड़-फोड़ और हिंसा के बाद की। थांगखियू हाल में पुलिस मुठभेड़ के दौरान मारा गया था, जिसे लेकर शिलॉन्ग में हिंसा भड़क उठी थी। 

दो दिन पहले ही मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा के घर पर रविवार रात अज्ञात बदमाशों ने पेट्रोल बम फेंक दिया था। वाहन पर सवार होकर आए उपद्रवियों ने ऊपरी शिलांग के थर्ड माइल में स्थित मुख्यमंत्री के निजी आवास के परिसर में पेट्रोल से भरी दो बोतलें फेंक दीं। इस घटना में भी कोई हताहत नहीं हुआ था। हालांकि, सीएम ने पुलिस मुठभेड़ में पूर्व उग्रवादी की मौत की जांच कराने का ऐलान कर दिया था। उन्होंने यह भी बताया था कि शिलॉन्ग में पिछले कुछ हफ्तों में कई जगहों पर आईईडी मिले हैं। पुलिस कुछ गिरफ्तारियों के लिए तेजी से आगे बढ़ी है।

मेघालय में हिंसा की घटनाओं के बीच गृह मंत्री दे चुके हैं इस्तीफा:  मेघालय के गृह मंत्री लखमेन रिंबुई पूर्व उग्रवादी के मारे जाने और मेघालय में बढ़ती हिंसा के मद्देनजर पहले ही इस्तीफा दे चुके हैं। उधर मेघालय सरकार ने मंगलवार को कहा कि राज्य की राजधानी में तोड़-फोड़ के बाद लागू कर्फ्यू के दौरान कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है और पुलिस ने उन लोगों के लिए हेल्पलाइन की शुरुआत की है, जो यहां से जाना चाहते हैं।



Source link

हमें खबर को बेहतर बनाने में सहायता करें

खबर में कोई नई नॉलेज मिली?
क्या आप इसको शेयर करना चाहेंगे?
जानकारी, भाषा, हेडिंग अच्छी है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,678,786
Recovered
0
Deaths
447,194
Last updated: 8 minutes ago

Vistors

6772
Total Visit : 6772