en English
en English

Aaj Ka Shabd Tyori Bhawana Saxena Best Poem Yaadon Ki Gullak – आज का शब्द: त्योरी और भावना सक्सेना की कविता- यादों की गुल्लक 


                
                                                             
                            त्योरी का अर्थ होता है- देखने का ढंग या भाव, अवलोकन या निगाह। अमर उजाला 'हिंदी हैं हम' शब्द श्रृंखला में आज का शब्द है-त्योरी। प्रस्तुत है भावना सक्सेना की कविता: यादों की गुल्लक
                                                                     
                            

आज अचानक बैठे-बैठे
फूट गई यादों की गुल्लक
जंगल में बहते झरने से
झर-झर झरे याद के सिक्के
गौर से देखा अलट-पलट कर
हर सिक्के का रंग अलग था,
खुशबू थी बीते मौसम की
पीर जगाती दिल में, लेकिन
मौसम थे खुशरंग वह सारे।

आगे पढ़ें

2 minutes ago



Source link

हमें खबर को बेहतर बनाने में सहायता करें

खबर में कोई नई नॉलेज मिली?
क्या आप इसको शेयर करना चाहेंगे?
जानकारी, भाषा, हेडिंग अच्छी है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,678,786
Recovered
0
Deaths
447,194
Last updated: 2 minutes ago

Vistors

6786
Total Visit : 6786