en English
en English

Kisan Mahapanchayat Karnal Live Updates: Kisan Andolan On Karnal Lathi Charge, Rakesh Tikait Samyukt Kisan Morcha Leaders News In Hindi – Karnal Mahapanchayat Live: नई अनाज मंडी में जुटे हजारों किसान, मंच पर पहुंचे गुरनाम चढूनी और राकेश टिकैत


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़
Published by: निवेदिता वर्मा
Updated Tue, 07 Sep 2021 12:41 PM IST

सार

Kisan Mahapanchayat in Karnal Live:28 अगस्त को करनाल में सीएम के दौरे का विरोध कर रहे किसानों पर लाठीचार्ज हुआ था। उसी के विरोध में किसान मंगलवार को करनाल में महापंचायत कर रहे हैं। इसके बाद मिनी सचिवालय का घेराव किया जाएगा। किसानों के विरोध को देखते हुए करनाल को छावनी में बदल दिया गया है। 

महापंचायत में पहुंचे राकेश टिकैत।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

कृषि मंत्री जेपी दलाल ने चढूनी पर साधा निशाना
कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि उन्हें लगता है कि गुरनाम चढूनी ने हरियाणा में लगातार अराजकता पैदा करने के लिए कांग्रेस से पैसा लिया है। वे इसे तब तक जारी रखेंगे जब तक कि कुछ निर्दोष किसानों की जान नहीं चली जाती। हरियाणा के कुछ किसान समझ गए हैं कि यह सब राजनीति है।
 

राकेश टिकैत भी पहुंचे
किसान नेता राकेश टिकैत और योगेंद्र यादव भी मंच पर पहुंच गए हैं।

मंच पर पहुंचे गुरनाम चढूनी
अनाज मंडी में आयोजित महापंचायत में भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष गुरनाम चढूनी मंच पर पहुंच गए हैं। महापंचायत में हजारों की संख्या में किसान पहुंचे हैं।

बरसात के बीच महांपचायत शुरू
करनाल में किसानों की महापंचायत शुरू हो गई है। जिले में सुबह से झमाझम बरसात हो रही है। किसान संगठन नई अनाज मंडी में महापंचायत व जिला सचिवालय के घेराव के लिए एकत्रित हुए। वहीं पुलिस ने अनाज मंडी के बाहर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है। 

आधी रात तक लगाए गए कंटीले तार
इससे पहले सोमवार आधी रात तक नई अनाज मंडी से सटे सेक्टर-3 स्थित औद्योगिक क्षेत्र को कंटीले तार और बांसों से सील कर दिया गया ताकि अनाज मंडी से किसी भी तरफ से किसान निकल न पाएं। रात 12:30 बजे तक औद्योगिक क्षेत्र के सात गेट सील किए जा चुके थे। पुलिस को आशंका है कि किसान माहौल बिगड़ने पर अनाज मंडी से औद्योगिक क्षेत्र में प्रवेश कर सकते हैं। लोक निर्माण विभाग के कर्मचारियों, श्रमिकों का अमला सीलिंग की कार्रवाई में जुटा रहा।

हर रास्ते पर रखे गए बैरिकेड
शहर से जिन रास्तों से जीटी रोड पर चढ़ा जा सकता है, उन सभी बिंदुओं पर बड़ी संख्या में बैरिकेड रख दिए गए हैं। महापंचायत के बाद किसानों का अगला लक्ष्य लघु सचिवालय पहुंचने का है। इस कारण यहां जीटी रोड के निर्मल कुटिया चौक से लघु सचिवालय गेट तक बैरिकेड के ढेर लगा दिए गए हैं। 

कुरुक्षेत्र विवि ने परीक्षाएं स्थगित की
आईजी करनाल और करनाल रेंज के सभी एसपी को कानून व्यवस्था बनाए रखने का निर्देश दिया गया है। डीजीपी पीके अग्रवाल ने सोमवार को तैयारियों की समीक्षा करते हुए किसानों से शांति बनाए रखने की अपील की थी। वहीं कुरुक्षेत्र विवि ने मंगलवार को होने वाली परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। इंटरनेट सेवाएं बंद रहने के कारण अब परीक्षाएं 28 सितंबर को होंगी। गृह विभाग के सचिव ने हालात के मद्देनजर दूरसंचार सेवाओं के अस्थायी निलंबन का आदेश जारी किया है।

इन जिलों में इंटरनेट सेवा बंद
करनाल में किसानों की महापंचायत में उपद्रव की आशंका को देखते हुए सरकार ने कुरुक्षेत्र, जींद, पानीपत और कैथल में भी सात सितंबर रात 11: 59 बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद करने का निर्णय लिया है। सीआईडी के एडीजीपी ने सरकार को बताया है कि किसानों के प्रदर्शन के दौरान करनाल व आसपास के जिलों में स्थिति बिगड़ सकती है, इसलिए विशेष एहतियात बरतने की जरूरत है।

विस्तार

कृषि मंत्री जेपी दलाल ने चढूनी पर साधा निशाना

कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि उन्हें लगता है कि गुरनाम चढूनी ने हरियाणा में लगातार अराजकता पैदा करने के लिए कांग्रेस से पैसा लिया है। वे इसे तब तक जारी रखेंगे जब तक कि कुछ निर्दोष किसानों की जान नहीं चली जाती। हरियाणा के कुछ किसान समझ गए हैं कि यह सब राजनीति है।

 

राकेश टिकैत भी पहुंचे

किसान नेता राकेश टिकैत और योगेंद्र यादव भी मंच पर पहुंच गए हैं।

मंच पर पहुंचे गुरनाम चढूनी

अनाज मंडी में आयोजित महापंचायत में भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष गुरनाम चढूनी मंच पर पहुंच गए हैं। महापंचायत में हजारों की संख्या में किसान पहुंचे हैं।


बरसात के बीच महांपचायत शुरू

करनाल में किसानों की महापंचायत शुरू हो गई है। जिले में सुबह से झमाझम बरसात हो रही है। किसान संगठन नई अनाज मंडी में महापंचायत व जिला सचिवालय के घेराव के लिए एकत्रित हुए। वहीं पुलिस ने अनाज मंडी के बाहर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है। 

आधी रात तक लगाए गए कंटीले तार

इससे पहले सोमवार आधी रात तक नई अनाज मंडी से सटे सेक्टर-3 स्थित औद्योगिक क्षेत्र को कंटीले तार और बांसों से सील कर दिया गया ताकि अनाज मंडी से किसी भी तरफ से किसान निकल न पाएं। रात 12:30 बजे तक औद्योगिक क्षेत्र के सात गेट सील किए जा चुके थे। पुलिस को आशंका है कि किसान माहौल बिगड़ने पर अनाज मंडी से औद्योगिक क्षेत्र में प्रवेश कर सकते हैं। लोक निर्माण विभाग के कर्मचारियों, श्रमिकों का अमला सीलिंग की कार्रवाई में जुटा रहा।

हर रास्ते पर रखे गए बैरिकेड

शहर से जिन रास्तों से जीटी रोड पर चढ़ा जा सकता है, उन सभी बिंदुओं पर बड़ी संख्या में बैरिकेड रख दिए गए हैं। महापंचायत के बाद किसानों का अगला लक्ष्य लघु सचिवालय पहुंचने का है। इस कारण यहां जीटी रोड के निर्मल कुटिया चौक से लघु सचिवालय गेट तक बैरिकेड के ढेर लगा दिए गए हैं। 

कुरुक्षेत्र विवि ने परीक्षाएं स्थगित की

आईजी करनाल और करनाल रेंज के सभी एसपी को कानून व्यवस्था बनाए रखने का निर्देश दिया गया है। डीजीपी पीके अग्रवाल ने सोमवार को तैयारियों की समीक्षा करते हुए किसानों से शांति बनाए रखने की अपील की थी। वहीं कुरुक्षेत्र विवि ने मंगलवार को होने वाली परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। इंटरनेट सेवाएं बंद रहने के कारण अब परीक्षाएं 28 सितंबर को होंगी। गृह विभाग के सचिव ने हालात के मद्देनजर दूरसंचार सेवाओं के अस्थायी निलंबन का आदेश जारी किया है।

इन जिलों में इंटरनेट सेवा बंद

करनाल में किसानों की महापंचायत में उपद्रव की आशंका को देखते हुए सरकार ने कुरुक्षेत्र, जींद, पानीपत और कैथल में भी सात सितंबर रात 11: 59 बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद करने का निर्णय लिया है। सीआईडी के एडीजीपी ने सरकार को बताया है कि किसानों के प्रदर्शन के दौरान करनाल व आसपास के जिलों में स्थिति बिगड़ सकती है, इसलिए विशेष एहतियात बरतने की जरूरत है।





Source link

हमें खबर को बेहतर बनाने में सहायता करें

खबर में कोई नई नॉलेज मिली?
क्या आप इसको शेयर करना चाहेंगे?
जानकारी, भाषा, हेडिंग अच्छी है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
33,678,786
Recovered
0
Deaths
447,194
Last updated: 6 minutes ago

Vistors

6772
Total Visit : 6772