en English
en English

Brazil President Jair Bolsonaro Can Face 11 Criminal Charges In Senate Covid-19 Probe – ब्राजील: कोरोना कुप्रबंधन की जांच में फंसे राष्ट्रपति बोल्सोनारो, 11 तरह के आपराधिक मामलों में बन सकते हैं आरोपी


वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, रियो डे जेनेरियो
Published by: प्रांजुल श्रीवास्तव
Updated Sat, 16 Oct 2021 10:00 AM IST

सार

सीनेटर का कहना है कि राष्ट्रपति पर नरसंहार, सार्वजनिक धन के अनियमित उपयोग, स्वच्छता उपायों के उल्लंघन, अपराध को बढ़ावा देने और जालसाजी का आरोप लगाया जाना चाहिए। 

ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो (फाइल फोटो)
– फोटो : Facebook

ख़बर सुनें

कोरोना के दौरान ब्राजील में हुईं छह लाख मौतों और कुप्रबंधन की जांच में ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो ही फंसते नजर आ रहे हैं। सीनेट इस संबंध में अपनी जांच रिपोर्ट अगले सप्ताह पेश करने वाली है। माना जा रहा है कि अपनी रिपोर्ट में सीनेट राष्ट्रपति को 11 तरह के आपराधिक मामलों में आरोपी बनाने की सिफारिश करेगी। 

नरसंहार से लेकर कोरोना के खिलाफ भ्रम फैलाने का आरोप 
एक रेडियो इंटरव्यू के दौरान सीनेटर रेनान कैलहेरोसा ने कहा कि अप्रैल में शुरू हुई जांच के दौरान कई सबूत इकट्ठे किए गए हैं। इन सबूतों के आधार पर राष्ट्रपति को नरसंहार, सार्वजनिक धन के अनियमित उपयोग, स्वच्छता उपायों के उल्लंघन, अपराध को बढ़ावा देने और जालसाजी के मामलों में आरोपी बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना के दौरान राष्ट्रपति ने लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन किया, किसी प्रमाण के बिना ही कोरोना के इलाज को मान्यता दी और टीकाकरण पर लोगों के मन में संदेह पैदा किया। इससे कोविड-19 के खिलाफ लोगों की गंभीरता कम हुई। 

मंगलवार को पेश होगी रिपोर्ट 
कोरोना पर चल रही जांच की यह रिपोर्ट मंगलवार को पेश की जाएगी। इसके बाद इस रिपोर्ट को अटॉर्नी जनरल के पास भेजा जाएगा और राष्ट्रपति व अन्य लोगों को आरोपी ठहराने के लिए मतदान भी कराए जांएगे। कैलहेरोस ने यह भी कहा कि रिपोर्ट में यह भी सिफारिश की जा सकती है कि राष्ट्रपति के अलावा उनके बेटों और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री पर भी आरोप लगाए जाएं। ब्राजील में कोरोना के दौरान छह लाख मौतों से राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो की लोकप्रियता घटी है। अमेरिका के बाद ब्राजील दूसरा देश है, जहां पर इतनी ज्यादा मौते हुई हैं। 

विस्तार

कोरोना के दौरान ब्राजील में हुईं छह लाख मौतों और कुप्रबंधन की जांच में ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो ही फंसते नजर आ रहे हैं। सीनेट इस संबंध में अपनी जांच रिपोर्ट अगले सप्ताह पेश करने वाली है। माना जा रहा है कि अपनी रिपोर्ट में सीनेट राष्ट्रपति को 11 तरह के आपराधिक मामलों में आरोपी बनाने की सिफारिश करेगी। 

नरसंहार से लेकर कोरोना के खिलाफ भ्रम फैलाने का आरोप 

एक रेडियो इंटरव्यू के दौरान सीनेटर रेनान कैलहेरोसा ने कहा कि अप्रैल में शुरू हुई जांच के दौरान कई सबूत इकट्ठे किए गए हैं। इन सबूतों के आधार पर राष्ट्रपति को नरसंहार, सार्वजनिक धन के अनियमित उपयोग, स्वच्छता उपायों के उल्लंघन, अपराध को बढ़ावा देने और जालसाजी के मामलों में आरोपी बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना के दौरान राष्ट्रपति ने लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन किया, किसी प्रमाण के बिना ही कोरोना के इलाज को मान्यता दी और टीकाकरण पर लोगों के मन में संदेह पैदा किया। इससे कोविड-19 के खिलाफ लोगों की गंभीरता कम हुई। 

मंगलवार को पेश होगी रिपोर्ट 

कोरोना पर चल रही जांच की यह रिपोर्ट मंगलवार को पेश की जाएगी। इसके बाद इस रिपोर्ट को अटॉर्नी जनरल के पास भेजा जाएगा और राष्ट्रपति व अन्य लोगों को आरोपी ठहराने के लिए मतदान भी कराए जांएगे। कैलहेरोस ने यह भी कहा कि रिपोर्ट में यह भी सिफारिश की जा सकती है कि राष्ट्रपति के अलावा उनके बेटों और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री पर भी आरोप लगाए जाएं। ब्राजील में कोरोना के दौरान छह लाख मौतों से राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो की लोकप्रियता घटी है। अमेरिका के बाद ब्राजील दूसरा देश है, जहां पर इतनी ज्यादा मौते हुई हैं। 



Source link

हमें खबर को बेहतर बनाने में सहायता करें

खबर में कोई नई नॉलेज मिली?
क्या आप इसको शेयर करना चाहेंगे?
जानकारी, भाषा, हेडिंग अच्छी है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
34,615,757
Recovered
0
Deaths
470,115
Last updated: 8 minutes ago

Vistors

10586
Total Visit : 10586