en English
en English

Rajasthan: Cm Ashok Gehlot Can Accept The Resignation Of Ministers Today – राजस्थान: गहलोत कैबिनेट के सभी मंत्रियों का इस्तीफा, कल होने वाली बैठक में होगा नए मंत्रिमंडल पर फैसला


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जयपुर
Published by: प्रांजुल श्रीवास्तव
Updated Sat, 20 Nov 2021 12:06 PM IST

सार

इससे पहले गहलोत सरकार के तीन मंत्रियों ने शुक्रवार शाम को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। ताजा जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री ने तीनों मंत्रियों के इस्तीफे स्वीकार कर लिए हैं। इस्तीफा देने वाले मंत्रियों में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, राजस्व मंत्री हरीश चौधरी और स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा शामिल हैं।

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत
– फोटो : Amar Ujala

ख़बर सुनें

राजस्थान की गहलोत सरकार की कैबिनेट बैठक मुख्यमंत्री अशांक गहलोत के आवास पर शनिवार को हुई। इसमें गहलाेत मंत्रिमंडल के सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया। बताया जा रहा है कि कल प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में बहम बैठक होने वाली है। इसमें नए मंत्रिमंडल पर फैसला हो सकती है। इससे पहले गहलोत सरकार के तीन मंत्रियों ने शुक्रवार शाम को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। ताजा जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री ने तीनों मंत्रियों के इस्तीफे स्वीकार कर लिए हैं। इस्तीफा देने वाले मंत्रियों में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, राजस्व मंत्री हरीश चौधरी और स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा शामिल हैं।

इससे पहले शुक्रवार को ही तीनों मंत्रियों ने सोनिया गांधी को पत्र भेजकर इस्तीफे देने की पेशकश की थी। इन सभी मंत्रियों ने एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत के चलते इस्तीफा दिया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, रविवार शाम चार बजे नए मंत्रियों का शपथग्रहण हो सकता है। 

देर शाम शुरू हुई बैठक
सीएम अशोक गहलोत उदयपुर के दौरे पर थे, लेकिन कांग्रेस आलाकमान के आदेश पर उन्होंने दौरा रद्द कर दिया। इसके बाद उन्होंने अपने आवास पर देर शाम कैबिनेट और मंत्रिपरिषद की बैठक बुलाई। माना जा रहा है कि वे इसी बैठक में सभी मंत्रियों से इस्तीफा मांग सकते हैं। इसके बाद गहलोत मंत्रिमंडल का पुनर्गठन किया जाएगा। 

पायलट खेमे को मिल सकती है मंत्रिमंडल में जगह 
दरअसल, राजस्थान में सचिन पायलट का खेमा इस वजह से ही नाराज है कि गहलोत कैबिनेट में उन्हें अहमियत नहीं दी जा रही है, लेकिन अब माना जा रहा है कि गहलोत के नए कैबिनेट में सचिन पायलट के खेमे के अलावा निर्दलीय और बसपा से आए विधायक भी शामिल होंगे और उन्हें मंत्री बनाया जाएगा। 

तीन मंत्रियों ने सौंपे थे इस्तीफे 
राजस्थान में शुक्रवार को बड़ा सियासी घटनाक्रम देखने को मिला था। दरअसल, यहां तीन मंत्रियों शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा और राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने इस्तीफे का एलान कर दिया था। इसके बाद राजस्थान के कांग्रेस प्रभारी अजय माकन जयपुर पहुंच गए, वे सीधे मुख्यमंत्री आवास पर गए और वहां देर रात तक सीएम के साथ उनकी बैठक होती रही। इन तीन मंत्रियों के इस्तीफे के बाद गहलोत कैबिनेट में 12 मंत्री पद खाली हो गए हैं। खबर आ रही है कि सीएम गहलोत ने तीनों मंत्रियों के इस्तीफे को स्वीकार कर लिया है। इस्तीफे के बाद गोविंद सिंह डोटासरा का बयान भी सामने आया है, उन्होंने कहा है कि कांग्रेस पार्टी के ‘एक पद एक व्यक्ति’ के सूत्र को ध्यान में रखते हुए हम लोगों ने अपना इस्तीफा सोनिया गांधी को दिया है। उन्होंने बताया कि आज शाम पांच बजे कैबिनेट की बैठक होगी। 

विस्तार

राजस्थान की गहलोत सरकार की कैबिनेट बैठक मुख्यमंत्री अशांक गहलोत के आवास पर शनिवार को हुई। इसमें गहलाेत मंत्रिमंडल के सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया। बताया जा रहा है कि कल प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में बहम बैठक होने वाली है। इसमें नए मंत्रिमंडल पर फैसला हो सकती है। इससे पहले गहलोत सरकार के तीन मंत्रियों ने शुक्रवार शाम को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। ताजा जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री ने तीनों मंत्रियों के इस्तीफे स्वीकार कर लिए हैं। इस्तीफा देने वाले मंत्रियों में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, राजस्व मंत्री हरीश चौधरी और स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा शामिल हैं।

इससे पहले शुक्रवार को ही तीनों मंत्रियों ने सोनिया गांधी को पत्र भेजकर इस्तीफे देने की पेशकश की थी। इन सभी मंत्रियों ने एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत के चलते इस्तीफा दिया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, रविवार शाम चार बजे नए मंत्रियों का शपथग्रहण हो सकता है। 

देर शाम शुरू हुई बैठक

सीएम अशोक गहलोत उदयपुर के दौरे पर थे, लेकिन कांग्रेस आलाकमान के आदेश पर उन्होंने दौरा रद्द कर दिया। इसके बाद उन्होंने अपने आवास पर देर शाम कैबिनेट और मंत्रिपरिषद की बैठक बुलाई। माना जा रहा है कि वे इसी बैठक में सभी मंत्रियों से इस्तीफा मांग सकते हैं। इसके बाद गहलोत मंत्रिमंडल का पुनर्गठन किया जाएगा। 

पायलट खेमे को मिल सकती है मंत्रिमंडल में जगह 

दरअसल, राजस्थान में सचिन पायलट का खेमा इस वजह से ही नाराज है कि गहलोत कैबिनेट में उन्हें अहमियत नहीं दी जा रही है, लेकिन अब माना जा रहा है कि गहलोत के नए कैबिनेट में सचिन पायलट के खेमे के अलावा निर्दलीय और बसपा से आए विधायक भी शामिल होंगे और उन्हें मंत्री बनाया जाएगा। 

तीन मंत्रियों ने सौंपे थे इस्तीफे 

राजस्थान में शुक्रवार को बड़ा सियासी घटनाक्रम देखने को मिला था। दरअसल, यहां तीन मंत्रियों शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा, स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा और राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने इस्तीफे का एलान कर दिया था। इसके बाद राजस्थान के कांग्रेस प्रभारी अजय माकन जयपुर पहुंच गए, वे सीधे मुख्यमंत्री आवास पर गए और वहां देर रात तक सीएम के साथ उनकी बैठक होती रही। इन तीन मंत्रियों के इस्तीफे के बाद गहलोत कैबिनेट में 12 मंत्री पद खाली हो गए हैं। खबर आ रही है कि सीएम गहलोत ने तीनों मंत्रियों के इस्तीफे को स्वीकार कर लिया है। इस्तीफे के बाद गोविंद सिंह डोटासरा का बयान भी सामने आया है, उन्होंने कहा है कि कांग्रेस पार्टी के ‘एक पद एक व्यक्ति’ के सूत्र को ध्यान में रखते हुए हम लोगों ने अपना इस्तीफा सोनिया गांधी को दिया है। उन्होंने बताया कि आज शाम पांच बजे कैबिनेट की बैठक होगी। 



Source link

हमें खबर को बेहतर बनाने में सहायता करें

खबर में कोई नई नॉलेज मिली?
क्या आप इसको शेयर करना चाहेंगे?
जानकारी, भाषा, हेडिंग अच्छी है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
34,648,383
Recovered
0
Deaths
473,757
Last updated: 6 minutes ago

Vistors

10940
Total Visit : 10940